Winter Shayari 2

दिल की धड़कने रुक सी गई हैं,
साँसे मेरी थम सी गई हैं,
पूछा दिल के डॉक्टर से हमने,
पता चला इस दिल में आपकी यादें,
सर्दी की वजह से जम सी गई हैं...
ज़िन्दगी में एक बात याद रखना,
आंसू पोछने वाले बहुत मिलेंगे,
पर नाक पोछने के लिए कोई नहीं आता,
सर्दी शुरू हो गई है इसलिए अपना ध्यान रखना...
सर्द मौसम का मज़ा कितना अलग सा है,
तन्हा रात में इंतज़ार कितना अलग सा है,
धुंद बनी नकाब और छुपा लिया सितारों को,
उनकी तन्हाई का अब एहसास कितना अलग सा है...
ठंडी-ठंडी पवन चली,
मौसम हुआ सुहाना,
जोकर भी मेसेज पढ़ने लगे,
पढ़ा लिखा हुआ जमाना...

--Happy Winter--
कदम कदम पे हवा की आहट का ध्यान रखना,
मुश्किल समय में भी इस दोस्त को याद रखना,
हमारी यादों की खुशबू ज़रूर आएगी,
तुम बस अपनी नाक साफ़ रखना...