Shayari

तिरंगा हमारा है शान-ए-जिंदगी,
वतन परस्ती है वफ़ा-ए-ज़मी,
देश के लिए मर मिटना कुबूल है हमें,
अखंड भारत के स्वपन का जूनून है हमें...