Motivational Shayari 2

भगवान का दिया कभी 'अल्प' नहीं होता,
जो बीच में टूट जाए वो 'संकल्प' नहीं होता,
हार को लक्ष्य से दूर ही रखना,
क्योंकि जीत का कोई 'विकल्प' नहीं होता...
बनो तो ऐसे बनो की दुश्मन भी तुम्हें याद करे,
हँसों तो ऐसे हँसों की गम भी तुम्हारे साथ हँसे,
जियो तो ऐसे जियो की खुदा भी तुम पर नाज़ करे...
करे कोशिश अगर इंसान तो क्या-क्या नहीं मिलता,
वो सर उठा के तो देखे जिसे रास्ता नहीं मिलता,
भले ही धूप हो काटे हों राहों में, पर चलना तो पड़ता ही है,
क्योंकि किसी प्यासे को घर बैठे दरिया नहीं मिलता...
ज़िन्दगी हर कदम पर एक नया मुकाम देती है,
मुसीबत में गिर कर संभलना फिर हौसलों का इम्तिहान लेती है,
जो भवर को चिर कर निकलते हैं,
ये दुनियाँ फिर उनको सलाम करती है...
ज़िन्दगी काटने से बेहतर है ज़िन्दगी जीना सीखो,
ज़िन्दगी ज़ीनी है तो मेरा यह पैगाम लिखो,
दुनिया तुम्हारे क़दमों में होगी,
बस मेरे दोस्तों सिकंदर की तरह सोचना सीखो...