Krishna Janamashtmi Shayari 1

कृष्णा जिनका नाम, गोकुल जिनका धाम,
ऐसे श्री भगवान को, हम सब करें प्रणाम..
देखो फिर जन्माष्टमी आई है,
माखन की हांडी ने फिर मिठास बंधाई है,
कान्हा की लीला है सबसे प्यारी,
वो दे तुम्हें दुनिया भर की खुशियाँ सारी...
मिश्री से मीठे नन्द लाल के बोल,
इनकी बातें हैं सबसे अनमोल,
जन्माष्टमी के इस पावन अवसर पर,
दिल खोल के जय श्री कृष्णा बोल...

    ----हैप्पी जन्माष्टमी----
श्री कृष्ण के कदम आपके घर आएं,
आप खुशियों के दीप जलाएं,
परेशानी आपसे आँखें चुराए,
कृष्ण जन्मोत्सव की आपको शुभ कामनाए...
गोकुल में जी करे निवास गोपियों संग जो रचाए रास,
देवकी-यशोदा जिनकी मईया, ऐसे हमारे किशन कन्हैया...
          ----हैप्पी जन्माष्टमी----
कन्हैया हमारे दुलारे, वही सबसे प्यारे,
माखन के लिए झगड़ जाएँ,
गोपियाँ देखकर आकर्षित हो जाएँ,
लेकिन सबके रखवाले, तभी तो सभी के दुलारे...

      ----हैप्पी जन्माष्टमी----
माखन चुराकर जिसने खाया,
बंसी बजाकर जिसने नचाया,
ख़ुशी मनाओ उसके जन्म की,
जिसने दुनिया को प्रेम सिखाया...
कृष्ण की महिमा, कृष्ण का प्यार, कृष्ण में श्रधा, कृष्ण से संसार,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार
श्री कृष्ण की कृपा आप पर बनी रहे,
दिल करता है इस अवसर पर दुआ बार-बार...
माखन चोर है आयो, यशोमति मैया का नंदलाला,
धरती पे भगवान का अवतार है आयो,

हरने कंस जैसे पापी को,
करने कल्याण धरती माँ का..

शेषनाग की छत्र में वो है आयो,
बनके कान्हा माखन चोर है आयो...
राधा की चाहत हैं कृष्णा,
उनके दिल की विरासत हैं कृष्णा,
चाहे कितना भी रास रचा ले कृष्णा,
दुनिया तो फिर भी यही कहती है..
      ---राधे कृष्णा---
    ---हैप्पी जन्माष्टमी---