Dua Shayari 1

फूलों की वादियों में बसेरा हो आपका,
तारों के आँगन में खुबसूरत सवेरा हो आपका,
दुआ है मेरी ये अपने दोस्त के लिए,
सारे जहाँ से भी प्यारा नसीब हो आपका...
अपने दिल में तुम्हारे प्यार की दास्तान लिखी है,
ना थोड़ी ना बहुत तमाम लिखी है,
कभी हमारे लिए भी दुआ कर लिया करो,
क्यूंकि हमने अपनी हर एक साँस तुम्हारे नाम लिखी है..
ज़रूरी नहीं की प्यार की मंजिल मिल जाये,
जिसे हम चाहते हैं वो हमें मिल जाये,
ना मिले तो ना कहो उसे बेवफा,
दुआ करो कोई हमसे भी प्यारा उसे मिल जाये...
दुआ है कि कामयाबी के हर शिखर पे आपका नाम होगा,
आपके हर कदम पर दुनिया का सलाम होगा,
हिम्मत से मुश्किलों का सामना करना,
हमारी दुआ है कि वक़्त भी आपका गुलाम होगा...
यार के इंतज़ार में दिल बेक़रार हो जाए,
उनके दीदार की घड़ी जैसे बहार हो जाए,
हमारी भी रब से यही दुआ है दोस्तों,
दुनिया में सबको ऐसे ही प्यार हो जाए...
ए खुदा दुआ ये मेरी खाली ना जाए,
कि मेरे दोस्त की पलकों में कभी आँसू ना आए,
आँसू निकले तो खुशी के निकले,
गम के आँसू मेरे हिस्से में आ जाएं...
ख़ुदा की रहमत सारे संसार पे बरसे,
मेरे हिस्से की रहमत मेरी जान पे बरसे,
ए ख़ुदा मुझे बना देना पानी,
अगर कभी मेरी जान प्यास को तरसे...
मेरी चाहत ने उसे बेइन्तहा खुशी देदी,
बदले में उसने मुझे कुछ यूँ खामोशी देदी,
खुदा से जो मांगी दुआ मैंने मरने की,
तो उसने भी कुछ यूँ तड़पने के लिए ज़िन्दगी देदी...
तुम मुझे याद करते तो मैं गम नहीं करता,
एक मैं हु जिससे कोई वफ़ा नहीं करता,
अगर देती तु सिला मेरी वफाओं का तो,
मैं भूल जाऊ तुझे कभी ये दुआ नहीं करता...
जुदा हो के तुमने हमें मौत से भी बत्तर सज़ा दी है,
फिर भी इस तड़पते दिल ने तुम्हें खुश रहने की दुआ दी है...